Tuesday, February 9, 2016

Navigation into The World Of Pickles

 

 

रंगबिरंगा अचार

 

सामग्री:

  • एक किलो कच्चा आम, छोटे टुकङों में कटे हुए।

  • एक किलो अदरक, बारिक टुकङों में कटे हुए।

  • एक किलो नींबू, छोटे टुकङों में कटे हुए।

  • एक किलो हरी मिर्च,दो टुकङों में कटे हुए।

  • एक किलो अमङा,दो टुकङों में कटे हुए।

  • एक किलो करौंदा, साबुत।


सभी सामग्री को भली-भांति धो कर, साफ मलमल की धोती या दुपट्टे से पोंछ कर सुखा कर धूप में सुखा लें।

मसाले की सामग्री:

  • हल्दी पा. -100 ग्राम

  • लाल मिर्चा पा.-300 ग्राम

  • एक छोटी डिबिया हींग

  • उजला सिरका - आधा लि.

  • मंगरैल-अजवाइन- 50 ग्राम

  • नमक स्वादानुसार (एक पैकेट टाटा)

  • सरसों तेल-एक लि.

  • काला नमक- 50 ग्राम


बनाने की विधि:

हल्दी,मंगरैल-अजवाइन और थोङा नमक अचार की साम्रगी में मिला दें और एक साफ सुखे मर्तबान में एक दिन के लिए रख दें।

दूसरे दिन उसको एक बङे बर्तन में निकाल कर सिरका छोङ सभी मसाले को भली-भांति मिला दें।अंतिम में सिरका मिलाएं।

मर्तबान में रख कर दो दिन धूप दिखा दें। रंगबिरंगा अचार तैयार हो गया।

पंद्रह- बीस में अचार तैयार हो जायेगा। पकौङी और खाना के साथ अचार के स्वाद का आनंद उठाएँ।

यह अचार बनाने का उपयुक्त समय बरसात है, अमङा और करौंदा इसी मौसम में उपलब्ध होता है।

stuffed-red-chilli-1272455

लाल मिर्च अचार

सामग्री:

  •  सरसों तेल-एक लीटर.

  • नमक स्वादानुसार (एक पैकेट टाटा)

  • 50 ग्राम- मंगरैल-अजवाइन

  • 50 ग्राम- साबुत जीरा

  • पाँच किलो लाल मिर्च (अचार वाला)

  • आधा किलो -पीला सरसों

  • एक किलो -काला सरसों

  •  100 ग्राम- हल्दी पा.

  • काला नमक- 50 ग्राम

  •  आधा किलो- अमचूर पा.


 

मसाला बनाने की विधि - लाल मिर्च (अचार वाला) को सूती गीला (पानी निचोङा हुआ) कपङे से पोंछ दें,ध्यान रहे पानी का अंश ना रहे।  बीज निकाल कर एक बरतन में रखें।

जीरा, मंगरैल-अजवाइन को कङाही में गरम कर मिक्सी में पीस लें। सभी मसाले को एक जगह मिला दें, नमक स्वाद से थोङा तेज रखें, अचार चटकार हो। सरसों तेल 100 ग्राम के करीब में मसाला में मिला दें।

अचार बनाने की विधि - मसाले को लाल मिर्च में भर दें, भरावन की तरह भर कर रखती जाएँ। जब पूरा मिर्च भर लें तो मर्तबान में सहेज कर रख दें। अगले दिन पूरा सरसों तेल गर्म कर के मिर्च पर डाल दें। मर्तबान में रख कर एक सप्ताह धूप दिखा दें।

दो महीने बाद अचार तैयार हो जायेगा। अचार का लुफ्त उठाएँ।

यह अचार बनाने का उपयुक्त समय ठण्ड का मौसम है, यह लाल मिर्च जाङे में उपलब्ध होता है।

मैं अचार खाने की शौकिन नहीं, बनाने और बांटने की शौकिन हूँ।

If you ever drop down at my place and navigate into my kitchen spaces, you will find jars full of colourful pickles, it’s a sight to watch. I love the colors of pickles marinated in my love & care & buoyant peppy colourful spices.

PS: This method is followed by me to prepare pickles, its shelf life is two years. You have to be careful in preserving, store in clean place and free from moisture and always take out pickles with a dry spoon and for daily use, keep it in a small jar on your dining table. Pickles have enmity with water, so be careful. Handle with Care.

If anyone wish to contact me for clarification of the process, drop a mail on id.ilavarma72@gmail.com.

Image Source: here & here

 

No comments:

Post a Comment